चाची के साथ सुहागरात मनाई

Chachi ke sath suhagrat manayi:

desi kahani, hindi sex stories

मेरा नाम अनुज है और मेरी उम्र 27 वर्ष है। अब मैं यही छोटा-मोटा कारोबार करता हूं। मेरे पिताजी का भी अपना ही कारोबार है। वह मुझे कहते हैं कि तुम मेरा कारोबार सामाल लो लेकिन मैंने कहा कि अभी फिलहाल मैं अपना कुछ करना चाहता हूं। यदि वह नहीं होता है तो फिर मैं आपका काम ही संभाल लूंगा। इसलिए वह मुझे अब ज्यादा नहीं कहते है। मेरे एक चाचा हैं जो कि मुझसे 10 साल बड़े हैं। वह शादी नहीं कर रहे थे। मेरे पिताजी ने उन्हें बहुत समझाया कि तुम शादी कर लो लेकिन वह शादी करना ही नहीं चाहते थे। वह भी मेरे पिताजी के साथ उनके कारोबार में ही  काम करते थे लेकिन अब उन्हें भी लगने लगा कि शादी कर लेनी चाहिए। तो उनके लिए अब पिताजी कोई लड़की देखने लगे लेकिन उनके लिए कोई लड़की मिल ही नहीं रही थी। क्योंकि उनकी उम्र बहुत ज्यादा हो चुकी थी और लड़की मिलना थोड़ा मुश्किल हो रहा था। मेरे पिताजी ने उन्हें यह भी कहा था कि अनुज की उम्र भी अब शादी की हो चुकी है। तो उससे पहले तुम अपनी शादी कर लो। मेरे चाचा का नाम रोशन है। उन्हें भी लगने लगा कि अब शादी कर लेनी चाहिए लेकिन एक उम्र के बाद लड़की मिलना भी थोड़ा मुश्किल हो जाता है। पिताजी ने बहुत जगह उनके लिए लड़की देखी लेकिन कोई लड़की मिल ही नहीं रही थी।

हमारे पड़ोस में एक अंकल रहते हैं। उन्होंने मेरे पिताजी से कहा कि उनकी नजर में एक लड़की है और वह उनके रिश्तेदार ही हैं। उसकी भी उम्र 32 वर्ष है। उसकी भी शादी कहीं हो नहीं रही है। तो आप एक बार उनके घर चले जाइए और उनसे मिल लीजिए। अगर आपको वह लड़की समझ आती है तो आप रिश्ते की बात कर लीजिए। यह सुनते हुए मेरे पिताजी बहुत खुश हुए और उन्होंने मेरे चाचा से इस बारे में बात की। मेरे चाचा और मैं इस बात से बहुत ज्यादा खुश हुए। मेरे पिताजी मुझे कहने लगे कि तुम एक काम करना कल तैयार हो जाना। कल हम उनके घर चले लाते हैं और हम तीनों उनके घर चले। गए जब हम लोगो ने लड़की देखी तो लड़की देखने में तो बहुत ज्यादा सुंदर थी। मेरे पिताजी ने उनका नाम पूछा तो उन्होंने बताया उनका नाम पायल है। अब उन्होंने मेरे चाचा के बारे में बताया और कहने लगे कि इन्होंने अभी तक शादी नहीं की है। क्योंकि यह पहले शादी नहीं करना चाहते थे। तो उन्होंने कुछ भी नहीं छुपाया और साफ-साफ सारी बातें कर दी। उन्होंने मेरे चाचा की उम्र भी बता दी। यह बात सुनकर लड़की वाले बहुत खुश हुए और उन्होंने भी इस रिश्ते के लिए हां कर दी। वह कहने लगे कुछ दिनों बाद हम सगाई करवा देंगे। मेरे चाचा भी इस बात से बहुत ज्यादा खुश है। वह मुझे कहने लगे कि चल आज पार्टी करते हैं। क्योंकि उनका और मेरा उठना-बैठना एक साथ ही था। अब हम दोनों ने जमकर शराब पी और हमें बहुत ज्यादा नशा हो गया। उसके बाद हम लोग घर चले गए और मेरे पिताजी कहने लगे कि तुम दोनों ने कुछ ज्यादा ही शराब पी ली है।  वह भी खुश है। इसलिए उन्होंने हम दोनों को कुछ भी नहीं कहा। और हम दोनों अपने अपने कमरे में सोने के लिए चले गए। अगले दिन से मैं अपने काम पर जाने लगा हूं और मेरे चाचा भी अपने काम पर जाने लगे। ऐसे ही काफी दिन बीत गए और अब उनकी सगाई का दिन भी नजदीक आने वाला था। मेरे चाचा ने मुझे कहा कि तुम थोड़ा समय निकाल लेना। हम कुछ कपड़े खरीद लेते हैं वहां जाने के लिए।

मैंने अपने चाचा को कहा ठीक है, हम लोग कल चल पड़ते हैं। अगले दिन हम लोग कपड़े लेने के लिए एक अच्छे से शोरूम में चले गए और वहां से हमने बहुत सारे कपड़े ले लिए। मैंने अपने लिए कुछ कपड़े खरीद लिए थे। हम लोगों ने वहां से बिल देने के बाद अपने घर आए। मेरे चाचा कहने लगे की मुझे थोड़ा अजीब सा लग रहा है, कि मेरी इतने सालों बाद शादी हो रही है। मैंने उन्हें समझाया कि ऐसा कुछ नहीं है। शादी का जो सही समय होता है तभी होती है। अब हम अगले दिन लड़की वालों के घर चले गए। हम लोगों ने वहां पर सगाई की रस्म की। वहां का माहौल बहुत ही अच्छा था। जो कि मुझे भी बहुत अच्छा लग रहा था। मेरी चाची की बहुत सारी सहेलियां उनके घर पर आई हुई थी। उससे मेरी चाची बहुत ज्यादा सुंदर लग रही थी। क्योंकि वह अपना मेकअप करवा कर आई थी। हम लोगों ने सगाई की रस्म करने के बाद अब अपने घर वापस लौट आए। कुछ दिनों बाद मेरे पिताजी ने शादी का दिन भी तय कर लिया। उन्होंने मेरे चाचा को बताया कि मैंने शादी का दिन तय कर लिया है। तो तुम अपनी सारी तैयारियां कर लेना। अब हम लोग शादी की तैयारियों में लग गए। हमने सारी बुकिंग करवा ली। जिससे कि हमें आगे चलकर कोई भी दिक्कत ना हो। हम लोगों ने पायल चाची की भी मदद की कपड़े शॉपिंग करवाने में। हम उन्हें अपने साथ ही ले गए और उनका नेचर बहुत ही अच्छा था। वह बहुत ही अच्छे से बात कर रही थी। मुझे बहुत ही अच्छा लगा उनसे बात करके और मेरे चाचा भी उनकी बहुत तारीफ कर रहे थे। अब उनकी शादी का दिन नजदीक आ गया और शादी बड़ी धूम धड़ाके से हुई। हम लोगों ने बहुत मस्ती की और उस दिन हम ने जमकर शराब पी रखी थी। मेरे चाचा भी बहुत नशे में थे। शादी खत्म हो गई। सब अपने घर लौट गए और शादी की रस्म अदा करने के बाद हम भी अपने घर लौट आए। हमारे साथ चाची भी थी और उनकी कुछ सहेलियां भी हमारे घर पर आई थी।

जब मेरी चाची मेरे चाचा के रूम में थी। वह घुंघट ओढे हुए ऐसे ही बैठी हुई थी। मेरे चाचा ने बहुत ज्यादा शराब पी रखी थी इसलिए उन्हें होश ही नहीं था हो क्या कर रहे हैं और वह बगल वाले कमरे में जाकर सो गए। मैं जब अंदर गया तो मैंने देखा कि चाची ऐसे ही घुंघट ओढ़े हुए बैठी हुई है। मैंने तुरंत ही दरवाजा बंद किया और लाइट को बंद कर दिया जिससे कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था। मैंने उनके घूंघट को उठाते हुए। उनके सारे कपड़ों को खोल दिया मुझे बहुत ज्यादा दिक्कत हो रही थी। उनके कपड़ों को उतारने में और उनकी चूड़ियां बहुत ज्यादा खनक रही थी। मैंने उनके लिपस्टिक लगे होठों को अपने होठों में लेना शुरू किया और मै उन्हें चूसते जाता। मैंने बहुत देर तक उनके होठों को ऐसे ही किस करना जारी रखा। वह भी बहुत ज्यादा उत्तेजित हो गई थी। मैंने उनके दोनों स्तनों को अपने हाथों से बड़ी तेजी से दबाना जारी रखा। मैंने उनके पूरे शरीर को अच्छे से चाट लिया था। उनके शरीर पर मैंने अपने दांतो के निशान भी मार दिए। मैंने जब उनकी मोटी चूत पर अपनी जीभ लगाई तो उनका पूरा पानी गिरने लगा। मैं काफी देर तक उनकी योनि को ऐसे ही चाटे जा रहा था। अब उनसे भी सब्र नहीं हो रहा था और मुझसे भी सब्र नहीं हो रहा था।

मैंने भी तुरंत अपने लंड को उनकी चूत के अंदर बड़ी ही तेजी से घुसेड़ दिया। उनकी उम्र थोड़ा ज्यादा थी इसलिए उनकी योनि से खून नहीं निकला लेकिन वह अब भी बहुत ज्यादा टाइट थी। मुझे ऐसा लग रहा था मानो मैं किसी कमसिन लड़की को चोद रहा हूं। मैंने बड़ी मुश्किल से अपने लंड को अंदर डाला और ऐसे ही अब उन्हें धक्के देने लगा। काफी देर तक तो मैंने उन्हें ऐसे ही झटके देने प्रारंभ रखा जिससे कि उनका पूरा शरीर हिल जाता और वह भी बड़ी तेज आवाज में चिल्लाने लगी। कुछ देर ऐसा करने के बाद मैंने उन्हें अपने लंड के ऊपर बैठा लिया। जिससे कि वह अपनी चूतड़ों को ऊपर नीचे करने लगी और मैं नीचे से बड़ी तेजी से झटके मारना जाता। जैसे ही उनका झडने को होने वाला था वह बड़ी तेज तेज करने लगी और उनकी चूत से पानी भी निकल रहा था। मैं उनके स्तनों को बड़ी तेजी से दबा रहा था और थोड़ी देर बाद वह झड़ गई तो ऐसे ही मेरे लंड पर बैठी रही। उसके बाद मैंने भी नीचे से बड़ी तेजी से प्रहार करना शुरू किया और उन्हें ऐसे ही झटके मार रहा था। अब मैंने चाची को दोबारा अपने नीचे लेटा दिया। उसके तुरंत बाद मैंने उनको बड़ी तेज झटके मारने शुरू किया जिससे कि मेरा भी वीर्य गिर गया। थोड़ी देर तक मैं ऐसे ही बैठा रहा। उसके बाद मैं चुपके से अपने कमरे में चला गया जिससे कि किसी को भी पता नहीं चला और मैंने अपनी चाची की सुहागरात अपने साथी बना ली।


Comments are closed.




kahani bhabhichalti gadi me chudaidisha bahu ki chudai noker se sexy hindi kamuk kahaniyaboy ki gand mari storybahan ki chudai ki kahani hindiholi chudkkr mausibhabhi ki gand chudai videohindustani chootmom ki chudai antarvasnaindian porn story in hindibhabhi ki chut chatiboor chodai ki kahani hindi mebhabi sex story hindiचाचा ने भतीजी को चोदा जबरदस्ती gandi chudai ki storybur chodne ki hindi kahaniaunty ko jabardasti chodaraat ko chudai kinepal ki chutjabardasti chudai ki kahaniyan comicsasur bahu ki chudai ki storyhindi blue film storybhabi ki moti gaandjeans pehne wali aunty aunty kissing sex video HD mein jeans walimaa antarvasnasex kahani hindi fontchachi ko chodne ka tarikaचुतलड़किचारchudai sikhaihindi nangi kahanisex story gujarati fontbaap beti ki chudai sex storiessuhagraat ki chudai storychut chodna haibhabhi ki mast chudai hindibhabhi ki chudai sexy story in hindimastram ki mast kahani with photonaukrani pornmaa beta chudai kahani hindishadi shuda ko chodameri pyari didiJuicewale se chudwayibundelkhandi sexnanga karky dudh pina videobhabhi ko pataya aur chodasavita Bhabhi sax Hindi chiter khatasabse lamba landsex story in hindi sitemass tram ki Hindi hot story maa ki chassisnandoi ne chodamast chodahindi main chudaiसेक्स स्टोरी चुभ रहा हैmameri bahan ki chudaimausi ki ladki ko choda storyriste me chudaiwww.zvazvi didlo lesbiyn kthachudai indian kahanimeri chudai ki dastanBhabhi dosth ka land nhi le payichudai randi ki kahaniaunti ki chudai comanterwasna ki kahani mey haryanwi dancermaa aur chachi Ki chudi antarvasna story full Hindiindian sex stories in hindididi ko pelacar sikhne me ki cudai kehaniyabihar ki chutaunty ki chudai ki story in hindipapa ki gand marisekxydesiteacher ke sath chudaihindi x sexchudai ki real storywww xxx kahanimausi sex storyfuck ka hindihindi sex story ganne ki mithas rajsharma ma beta papa behanफ्री रसीली नेपाली नौकरानी के मस्त चुदाई की गरम कहानियाँऔरत के सेकशी कहानीsavita bhabi sexy story