एक और चुदाई वाला

Ek aur chudai wala:

hindi sex kahani

मेरा नाम कपिल है और मैं एक 28 वर्ष का युवा हूं। मैं एक कंपनी में जॉब करता हूं। मेरे घर में मेरे पिताजी हैं जो कि सरकारी कर्मचारी हैं और मेरे घर में मेरे बड़े भाई भी हैं जो कि एक दुकान चलाते हैं और उनकी शादी हो चुकी है। मेरे पिताजी बहुत ही ईमानदार व्यक्ति हैं और उन्होंने अपनी ईमानदारी की कमाई से ही हमारे घर को चलाया और उन्होंने कभी भी किसी से आज तक ₹1 भी उधार नहीं लिया। वह हमें में भी हमेशा कहते रहते हैं कि तुम ईमानदारी से काम करते रहोगे तो बहुत ही आगे बढ़ोगे। इसलिए हम लोग भी अच्छे से काम करते हैं और अपना काम में पूरा ध्यान दिया करते हैं। मेरे ऑफिस में ही एक लड़की है उसका नाम सुरभि है। मैं उसे काफी समय पहले से जानता था लेकिन एक दिन मैंने उसे प्रपोज कर ही दिया और उसने मुझे हां कह दिया। अब हम दोनों रिलेशन में है लेकिन ना जाने वह कुछ दिनों से मुझसे अच्छे से बर्ताव नहीं कर रही है और वह चाहती है कि उसका और मेरा ब्रेकअप हो जाए लेकिन मैं बिल्कुल भी नहीं चाहता कि मैं हमारे रिलेशन को किसी भी प्रकार से खत्म करूं।

हमारे ही ऑफिस में एक लड़का है उसका नाम अजय है। एक दिन वह मुझे अजय के साथ मुझे दिखाई दी। मैंने उस समय उसे कुछ भी नहीं कहा क्योंकि मैं उसके साथ हमेशा से ही अच्छे से व्यवहार करता था। मैंने कभी भी उसके साथ झगड़ा नहीं किया और ना ही उसे कभी कुछ गलत कहा। परंतु उसके बावजूद भी वह अजय के साथ में थी। तो मैं इस बात से बहुत ही हैरान था और परेशान भी था। एक दिन मैंने उसे अकेले में मिलने के लिए बुलाया। जब मैंने उससे इस बारे में बात की तो वो कहने लगी कि ऐसा कुछ भी नहीं है। तुम बेकार में अपने दिमाग में गलत धारणा पैदा कर रहे हो और मेरे बारे में गलत समझ रहे हो। मैंने उसे कहा कि गलत वाली बात बिल्कुल भी नहीं है क्योंकि जब मैंने तुम्हें उसके साथ देखा है तो कुछ तो गलत हुआ होगा लेकिन वह मुझे कहने लगी कि ऐसी कोई भी बात नहीं है। परंतु उस दिन जब मुझे पता चला कि वह अजय के साथ भी चक्कर चला रही है तो मैं बहुत ज्यादा गुस्से में हो गया और मैंने उसे कहा कि तुम मेरे साथ ऐसा क्यों कर रही हो।

यदि तुम्हें मुझसे कोई भी आपत्ति है तो तुम मुझे बता सकती हो। वह मुझे कहने लगी कि अजय मेरा बहुत ही ध्यान रखता है और हर चीज़ मेरी पूरी कर देता है। मैंने उसे बोला सिर्फ पैसे से ही प्यार नहीं किया जा सकता कुछ और भी चीजें होती हैं जो तुमने कभी भी मेरे बारे में शायद ध्यान नहीं दिया लेकिन अब मुझे पता चल चुका था कि सुरभि मुझसे रिलेशन नहीं रखना चाहती हो और वह अजय के साथ ही रहना चाहती है। तो मैंने भी उसे कुछ नहीं कहा। मैंने उसे कहा कि जो तुम्हारा फैसला है तुम उसी पर ही अडी रहो और अब तुम कुछ गलत मत करना। वह मुझे कहने लगी कि तुम्हें मुझे समझाने की आवश्यकता नहीं है और उसके बाद से हम लोग एक ही ऑफिस में काम तो करते थे परंतु वह मुझसे बिल्कुल भी बात नहीं करती थी और मैं भी उससे बात नहीं किया करता था। अजय और वह दोनों साथ में रहते थे और वह दोनों बहुत खुशी से अपनी जिंदगी में व्यस्त थे लेकिन कुछ दिनों बाद उन दोनों के झगड़े शुरू हो गए। तब भी उसने मुझसे कुछ बात नहीं कही और वह अपने आप में ही गुमसुम बैठी हुई थी और बहुत ही चुपचाप बैठी हुई थी। मुझे लगा की शायद मुझे उससे इस बारे में बात करनी चाहिए। तो मैंने उससे इस बारे में बात की। वह कहने लगी कि मेरा अजय के साथ झगड़ा हो गया है जिस वजह से मैं बहुत ही परेशान हूं। मैंने उसे कहा कि कोई बात नहीं तुम उससे बात कर लेना। तुम दोनों आपस में अच्छे से रह सकते हो। मैंने जब उससे यह बात कही तो वह कहने लगी की तुम मुझे कितना समझते हो और अजय मुझे बिल्कुल भी नहीं समझता लेकिन अब मैं सुरभि के साथ कोई भी रिलेशन नहीं रखना चाहता था और मैं अपनी जिंदगी में खुश था। अजय और सुरभि की दोबारा से बात होने लगी। वह दोनों अब अच्छे से बात करने लगे। वह लोग बातें करने में ही व्यस्त रहते थे। मैं ऑफिस में सिर्फ अपने काम पर ही ध्यान दिया करता था। बाकी मैं सुरभि से ज्यादा मतलब नहीं रखता था और ना ही उससे मेरी ज्यादा बात होती थी। ऐसे ही काफी समय बीतता चला गया और मेरे पिताजी ने एक दिन मुझे कहा कि अब तुम्हारी उम्र शादी की हो चुकी है और हम तुम्हारे लिए कोई लड़की देख लेते हैं। मैंने अपने पिताजी से कहा कि अभी से आपको लड़की देंकने की आवश्यकता नहीं है। अभी मेरी उम्र नहीं हुई है। अभी मैं थोड़ा अपने आप को समय देना चाहता हूं लेकिन वह कहने लगे कि बेटा तुम्हें अब शादी कर ही लेनी चाहिए।

उन्होंने मेरे लिए एक लड़की देखी और जब मैं उस लड़की से मिलने गया था तो वह बहुत ही सुंदर थी और मुझे अच्छी भी लग रही थी। क्योंकि वह बहुत ही सिंपल और साधारण तरीके की लड़की थी। जिस तरीके की लड़की से मुझे शादी करनी चाहिए वह उसी तरीके से थी और मैंने उसे अपने बारे में सब कुछ बता दिया कि मेरे ऑफिस में एक लड़की है जिससे मेरा रिलेशन चल रहा था। परंतु अब मेरा उससे कोई भी संबंध नहीं है। वह कहने लगी कि मुझे उस बात से कोई भी मतलब नहीं है यदि आप मेरे साथ अच्छे से रहेंगे तो मुझे बहुत खुशी होगी और आपने मुझे पहले अपने बारे में बता दिया तो मुझे बहुत ही अच्छा लगा। मैंने उसे कहा कि मैं तुम्हें अपने साथ खुश रखूंगा। वह भी अब मेरे साथ शादी के लिए तैयार हो गई और जब यह बात हमारे ऑफिस में पता चली तो सुरभि भी मुझे बधाई देने के लिए आयी। वह कहने लगी कि तुमने यह बहुत ही अच्छा फैसला लिया कि तुम शादी कर रहे हो। अब ऐसे ही एक महीना बीत चुका था और अजय और सुरभि के बीच में बहुत ज्यादा झगड़ा होने लगा। अब अजय और सुरभि बिल्कुल भी बात नहीं करते थे। एक दिन सुरभि मेरे पास आई और कहने लगी कि अजय मुझे बिल्कुल भी पसंद नहीं है। वह बहुत ही झगड़ा करता है और छोटी-छोटी बातों का बतंगड़ बनाता रहता है। इसलिए मैं अब उससे कोई रिलेशन नहीं रखना चाहती। अब सुरभि मुझसे बात करने लगी और वह मुझे कहने लगी कि मैंने तुम्हें गलत समझा और तुम्हें मैंने बहुत तकलीफ पहुंचाई है। मैंने उसे कहा लेकिन अब इन बातों का कोई फायदा नहीं है। मेरी शादी होने वाली है।

लेकिन वह कहने लगी कि मैं तुमसे अकेले में बात करना चाहती हूं और वह मुझे हमारे ऑफिस के छत में ले गई और हम दोनों वहां बात कर रहे थे। बात करते-करते उसने मेरे होठो को किस कर लिया और जब उसने मुझे किस किया तो मेरी उत्तेजना और बढ़ने लगी। अब मैं बहुत ज्यादा उत्तेजित हो गया था मैंने तुरंत अपने लंड को बाहर निकालते हुए उसके मुंह के अंदर डाल दिया। जब मैंने उसके मुंह में डाला तो वह उसे अपने गले तक लेने लगी और उसे अच्छे से चूसने लगी। मैंने भी उसके गले तक अपने लंड को डाल दिया। अब उसने अपने सलवार को निचे करते हुए मेरे सामने अपनी चूतड़ों को खोल दिया। मैंने सुरभि के चूतड़ों के अंदर जैसे ही उसकी योनि में अपने लंड को डाला तो वह चिल्ला उठी और बहुत उत्तेजित हो गई। उससे बिल्कुल बर्दाश्त नहीं हुआ और वह अपनी चूतडो को मुझसे टकराने लगी और वह बड़ी तेजी से अपनी चूतडो को मेरे लंड से टकराती जाती। उसकी चूतड पूरी लाल हो चुकी थी और मैं उसे ऐसे ही चोदने पर लगा हुआ था। उसे भी बहुत मज़ा आ रहा था वह अपनी मादक आवाज निकालने लगी और कहने लगी कि मुझे तुम्हारा लंड अपनी चूत  मे लेकर बहुत मजा आ रहा है इतना मजा मुझे अजय ने नहीं दिया। मैंने बहुत गलती की जो तुमसे अपनी चूत पहले नहीं मरवाई यदि तुम मेरी योनि में अपना लंड पहले ही डाल देते तो मैं तुम्हें कभी छोड़ती।  लेकिन मैंने उसे कहा अब जो होना था वह तो हो चुका है और मैं उसे ऐसे ही चोदने पर लगा हुआ था। मैंने उसे इतना अच्छे से चोदा कि उसकी इच्छा पूरी हो गई और मेरा वीर्य मैने उसके चूतड़ों पर ही गिरा दिया। अब मैं उससे हमेशा ही चोदता हूं लेकिन अब मेरी शादी हो चुकी है उसके बावजूद भी वह मुझसे अपनी चूत मरवाती रहती है। वह कहती है मुझे तुम्हारा लंड बहुत पसंद है।


Comments are closed.




chudte dekhagand mari kahaninangi moti gaandsexrekhabhabhinepali aurat ki chudaiwww antarvasna sex stories comहॉट नॉनवेज चुदाईनई नई बहू सेक्सी हिंदी कहानियांnew chut ki kahaniGand moti anterwasna bhan buaa gey fufamery bahu ki madmst jawni desibeebs storybatromsexy कहानियोंsister ko blwu film dikhayaकी छूट देके kar chut की chatai chodai train me bushindi sexy desi kahaniyanisha ki chudaiek chudai ki kahanivandana ki chudaima bete ke sex khyneyahindi long sex storyxxx kahaniya mosi ki mote gand marisavita bhabhi sixMOSI.KI.BAHU.KO.SALIPAR.BUS.ME.CHODA.WITH.VIDOsasur ka mota lundstudent teacher chudaisexy kahaniya downloadmadam ko choda kahanivery sexy kahaniअंकल के टाईट लंड से पहली बार गे सेक्स की कहानियाँhindi saxy khanibachpan me chudaibakari ki nakali land sa kamkutamallustoryland in boorchoot mariमाँ को चोदाsex hindi real storyमकान मालकिन ने मुझसे जबरदस्ती चुदवाया कहानीhindimaachudaistorychut ki ladkimaa ki chudai ki new kahaniapni chachi ki gand mariMeri chut aur gaand ki seal todi mera bhai na hindi antravaShna storykaamwali auntyammi jaan ki chudaiSexy film balatkar karne wali Kachi seal packaunty ki chodai kahanichoot ki tasveerक्सक्सक्स हिंदी चाची की चुड़ै कहानीaunty ki xxxlady dr ko chodasuhagrat kahani hindilund choot ki chudaichahat hawas ki.khani incestchudai ki kahani newsexy police na wife ko chuda story.com in hinditeacher ke sath chudai ki kahaninaukrani ki gaandantarvasna kahani in hindima ne chodna sikhayaladki chudai storychudai story freeवर्जिन दीदी की मालिस क्सक्सक्स हिंदी स्टोरीक्सक्सक्स रंडी नीलू की पुलिस से छुड़ाईchut lund ki hindi storyhanke chod mujhe sex videochodne ka storybhabhi ki gand mari storyjija sali hindi sexSaas aur beti ki chudai khanimarathi srx storydesi kahani maa ki chudaixxx saxe hindi jeja saalie story.comdarubaaz bete ne gand mari Hindi sex storiesschool teacher ne chodasexy chachi ki chutxxxn. Story hindi bemar bhikhare